12.09.2017 ►TSS ►Terapanth Sangh Samvad News

Posted: 12.09.2017
Updated on: 14.09.2017

Update

13 सितम्बर का संकल्प

*तिथि:- आसोज कृष्णा अष्टमी*

भूख-प्यास की व्याकुलता मन को सताती।
इंद्रिय-संयम-जागृति मनोबल दृढ़ बनाती।।

📝 धर्म संघ की तटस्थ एवं सटीक जानकारी आप तक पहुंचाए
🌻 *तेरापंथ संघ संवाद* 🌻

🔆⚜🔆⚜🔆⚜🔆⚜🔆⚜🔆

जैनधर्म की श्वेतांबर और दिगंबर परंपरा के आचार्यों का जीवन वृत्त शासन श्री साध्वी श्री संघमित्रा जी की कृति।

📙 *जैन धर्म के प्रभावक आचार्य'* 📙

📝 *श्रंखला -- 150* 📝

*विलक्षण वाग्मी आचार्य वज्रस्वामी*

*जीवन-वृत्त*

आचार्य वज्र पाटलिपुत्र के उद्यान में ठहरे। विशाल मानव-मेदिनी को संबोधित करते हुए उन्होंने मोह-विनाशिनी धर्मकथा प्रारंभ की। घनरव-गंभीर घोष में वे बोले

*खणदिट्ठविहवे, खणपरियट्टंत विविहसुहदुक्खे।*
*खणसंजोगवियोगे, नत्थि सुहं किंपि संसारे।।58।।*
*(उपदेशमाला विशेष वृत्ति, पृष्ठ 215)*

संसार प्रतिक्षण परिवर्तनधर्मा है। वैभव स्थाई नहीं है। सुख-दुख, संयोग-वियोग का प्रतिक्षण चक्र चलता रहा है।

"पोइणिदलग्ग जल बिन्दुचंचलजीवियं" पद्मिनी दलाग्र पर स्थित जलबिंदु के समान जीवन अस्थिर है। जिन धर्म की शरण ही संसार में सर्वोत्तम है।

आचार्य वज्र की अमृतोपम देशना को राजा के साथ राजकुमारों, श्रेष्ठि-पुत्रों, प्रशासकों, मंत्रियों एवं सहस्रों नागरिकों ने सुना। आचार्य वज्र की प्रभावोत्पादक वाणी से श्रोतागण मंत्रमुग्ध हो गए। प्रवचनोपरांत शहर में वज्रस्वामी के प्रवचन की चर्चा हुई।

आचार्य वज्रस्वामी द्वारा प्रदत्त प्रथम धर्म देशना की प्रशंसा सुनकर अंतःपुर में हलचल हुई। रानियां आचार्य वज्र के रूप-सौंदर्य को देखने एवं मधुर वाणी का रसास्वाद करने के लिए उत्सुक हुईं एवं अनेक नारियों से परिवृत होकर वे धर्मस्थान पर उपस्थित हुईं। आचार्य वज्र विविध लब्धियों के स्वामी थे। क्षीराश्रवलब्धि से संपन्न आचार्य वज्र की वाणी में मधुमिश्रित दूध जैसा मिठास था। राजकुमारियां और रानियां आदि आचार्य वज्र की धर्म देशना सुनकर अत्यंत प्रभावित हुईं तथा सभी ने अपने आप में धन्यार्हता का अनुभव किया।

एक बार विशाल जन-समुदाय के सामने अपने आपको विरूपाकृति में प्रस्तुत कर आचार्य वज्र ने पुष्करावर्त मेघ की नांई धारा प्रवाह प्रवचन दिया। लोग विचार करने लगे

*जइ नाम-रुव-लच्छी हुंति एयस्स तो न तिजए वि।*
*असुरो सुरो व विज्जाहरो व इमिणा समो हुंतो*
*।।71।।*
*(उपदेशमाला विशेष वृति, पृष्ठ 215)*

आचार्य वज्र में अद्भुत वाक कौशल के साथ रूप होता तो सुर-असुर, विद्याधर कोई व्यक्ति इनकी तुलना नहीं कर सकता। आचार्य वज्र ने जनता की भावना को जाना एवं दूसरे दिन रूप परिवर्तन किया। प्रवचन के समय वे सहस्र दलाकृति आसन पर स्थित अत्यंत सौंदर्य संपन्न एवं विद्युत्पुंज की भांति प्रकाशमय दिखाई देने लगे, लोगों में पुनः चर्चा चली 'नारियां इनके रूप-सौंदर्य पर विमूढ़ न बन जाएं संभवतः इसलिए आचार्य वज्र व्याख्यान के समय विरूप का प्रदर्शन किया था।' सभी ने आचार्य वज्र के व्यक्तित्व की प्रशंसा की।

विस्मितानन समग्र सभा को देखकर आचार्य वज्र बोले "तपोधन लब्धिसंपन्न, अणगार असंख्यात सौंदर्यसंपन्न रूपाकृतियों का प्रदर्शन कर सकते हैं इसमें आश्चर्य क्या है?"

आचार्य वज्र के गुणों की चर्चा रुक्मिणी के कानों तक पहुंची। वह उनके दर्शन करने को उत्सुक हुई। संकल्प की बात पिता के सामने दोहराती हुई बोली "श्रीमद् वज्राय मां यच्छ शरणं मे अन्यथानलः तात्! मेरी मनोकामना पूर्ण करने का अवसर आ गया है। आचार्य वज्र यहां आ गए हैं। आप मुझे उन्हें समर्पित कर दें, अंयथा मैं अग्निदाह कर लूंगी।"

पुत्री के संकल्प से श्रेष्ठी सिहर उठा। वह शत-कोटि संपदा के साथ पुत्री रुक्मिणी को लेकर वज्रस्वामी की प्रवचन परिषद् में पहुंचा।

*वज्रस्वामी के प्रवचन परिषद् में आगे क्या घटित हुआ...?* जानेंगे... हमारी अगली पोस्ट में... क्रमशः...

प्रस्तुति --🌻तेरापंथ संघ संवाद🌻
🔆⚜🔆⚜🔆⚜🔆⚜🔆⚜🔆

Video

https://youtu.be/oJA_sN4o7Ts

दिनांक 12-09-2017 राजरहाट, कोलकत्ता में पूज्य प्रवर के आज के प्रवचन का संक्षिप्त विडियो..

प्रस्तुति - अमृतवाणी

सम्प्रेषण -👇
📝 धर्म संघ की तटस्थ एवं सटीक जानकारी आप तक पहुंचाए
🌻 *तेरापंथ संघ संवाद* 🌻

Update

👉 पूज्य प्रवर का प्रवास स्थल -"राजरहाट", कोलकाता (पश्चिम बंगाल) में

👉 गुरुदेव मंगल उद्बोधन प्रदान करते हुए..

👉 आज के मुख्य प्रवचन के कुछ विशेष दृश्य..

दिनांक - 12/09/2017

📝 धर्म संघ की तटस्थ एवं सटीक जानकारी आप तक पहुंचाए
प्रस्तुति - 🌻 तेरापंथ संघ संवाद 🌻

News in Hindi

👉 *श्रीमती कुमुद कच्छारा* वर्ष 2017-19 के लिए अखिल भारतीय तेरापंथ महिला मंडल के अध्यक्ष निर्वाचीत

प्रस्तुति - *तेरापंथ संघ संवाद*

👉 प्रेक्षा ध्यान के रहस्य - आचार्य महाप्रज्ञ

प्रकाशक - प्रेक्षा फाउंडेसन

📝 धर्म संघ की तटस्थ एवं सटीक जानकारी आप तक पहुंचाए
🌻 *तेरापंथ संघ संवाद* 🌻

12 सितम्बर का संकल्प

*तिथि:- आसोज कृष्णा सप्तमी*

सभी जीवों के प्रति मैत्री हृदय में समाएं ।
समता सागर से करुणा की गंगा बहाएं ।।

📝 धर्म संघ की तटस्थ एवं सटीक जानकारी आप तक पहुंचाए
🌻 *तेरापंथ संघ संवाद* 🌻

Share this page on: