20.03.2017 ►STGJG Udaipur ►News

Posted: 20.03.2017

News in Hindi

#राष्ट्रपति जी को भगवान महावीर जन्म जयन्ती तालकटोरा स्टेडियम के लिए दिया निमन्त्रण

नई दिल्ली: अहिंसा के अग्रदूत श्रमण भगवान महावीर स्वामी का 2616वां पावन जन्म कल्याणक दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में भगवान महावीर जयन्ती महोत्सव महासमिति तथा दिल्ली के समस्त श्री संघों एक भव्य समारोह के रूप में रविवार, दिनांक 9 अप्रैल 2017 को प्रातः 9ः30 बजे से आयोजित किया जा रहा है। आज के वैश्विक परिवेश में भगवान महावीर के सर्वकालीन सिद्धांतों जैसे अहिंसा, अनेकान्तवाद, अपरिग्रह आदि को जीवन में अपनाये जाने व इनके विश्व भर मे प्रचार-प्रसार की विशेष आवश्यकता है।

इसी सन्दर्भ में 15 मार्च 2017 को राष्ट्रपति भवन में माननीय राष्ट्रपति श्री प्रणव मुखर्जी जी से श्री कलराज मिश्र (केन्द्रीय सूक्ष्म एवं लघु उद्योग मंत्री भारत सरकार) तथा श्री दिलीप गांधी (सांसद एवं पूर्व केन्द्रीय मंत्री भारत सरकार) के नेतृत्व में भगवान महावीर जयन्ती महोत्सव महासमिति का एक विशिष्ट प्रतिनिधिमण्डल ने मिलकर आमन्त्रण दिया । जिसमें मुख्य संयोजक श्री सुभाष ओसवाल जैन तथा अध्यक्ष श्री अतुल जैन विशेष रूप से शामिल थे। कार्यक्रम के सम्बन्ध में हुई चर्चाओं के उपरान्त माननीय राष्ट्रपति जी ने पूर्व निर्धारित कार्यक्रमों के अनुसार उपस्थित होने की सम्भावनाओं का संकेत दिया।

ज्ञात हो इस कार्यक्रम में दिल्ली में विराजित लगभग 200 सभी श्रद्धेय संत -साध्वी जी म. एवं देश का शीर्ष राजनैतिक नेतृत्व, तथा समस्त जैन समाज की गरिमामय उपस्थिति रहेगी। इस कार्यक्रम में मीडियाकर्मियों एवं विद्वानों द्वारा सारगर्भित उद्बोधन, भगवान महावीर के जीवन पर आधारित डाक्यूमेंट्री फिल्म का प्रदर्शन तथा स्कूली बच्चों द्वारा भगवान महावीर के सिद्वांतों पर भव्य प्रदर्शनी, श्रमण संघीय आचार्य सम्राट् पूज्य श्री शिवमुनि जी म. सा. द्वारा श्रमणी सूर्या महासाध्वी डाॅ. सरिता जी म. सा. को उत्तर भारतीय प्रवर्तिनी पद दिये जाने पर जैन काॅन्फ्रेंस दिल्ली प्रदेश द्वारा अभिनन्दन, सुप्रसिद्ध भजन गायक श्री लवेश बुरड़ इन्दौर द्वारा भक्तिमय प्रस्तुति तथा जैन समाज का प्रथम अत्यन्त उपयोगी आॅल इन वन मोबाईल एप्लीकेशन ‘जैन सेवा’ का भी शुभारम्भ किया जायेगा।

#योगीराज' आते ही इस शहर के 3 बूचड़खानों पर लगा ताला

#इलाहाबाद: यूपी में #योगी_आदित्यनाथ के मुख्यमंत्री बनते ही #बूचड़खानों पर कार्रवाई शुरु हो गई है। सोमवार को इलाहाबाद में 2 बूचड़खानों पर कार्रवाई करते हुए नगर निगम प्रशासन ने ताले जड़ दिए। दरसअल, रविवार रात करेली पुलिस पुलिस की मौजूदगी में अटाला और नैनी के चकदोंदी मोहल्ले में चल रहे अवैध बूचड़खानों पर ताला लगाकर सील कर दिया गया। शहर में अटाला के साथ रामबाग और नैनी के बूचड़खानों को बंद करने का आदेश एनजीटी पहले ही दे चुका है।

इससे पहले शनिवार को ही जौनपुर में भी प्रशासन के एक्शन के बाद एक अवैध बूचड़ाखाना बंद करवाया गया था। आपको बता दें कि हाईकोर्ट ने कई महीने पहले ही बूचड़खानों पर ताला जड़ने के आदेश दे दिए थे, लेकिन प्रशासनिक अफसरों की छूट पर ये बूचड़खाने चल रहे थे।

बीती रात शहर में करेली स्थित अटाला और कीडगंज के रामबाग में दो तथा नैनी के चकदोंदी मोहल्ले में बूचड़खाने हैं। मई 2016 में नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल (एनजीटी) के आदेश पर अवैध रूप से चल रहे बूचड़खानों के खिलाफ कार्रवाई की गई थी। प्रदेश में 250 से ज्यादा अवैध बूचड़खाने हैं। जिन्हें नगर निगम और संबंधित विभाग के अफसर कागज पर बंद बता रहे हैं। वास्तविकता यह है कि इन बूचड़खानों में रोज सैकड़ों जानवर काटे जाते हैं।

आपको बता दें कि विधानसभा चुनाव के दौरान भाजपा ने अवैध रूप से मानक के विपरीत चल रहे बूचड़खानों को सरकार बनते ही बंद कराने की घोषणा की थी। इसी क्रम में शपथ लेने के बाद सीएम योगी आदित्यनाथ ने बूचड़खानों को बंद कराने की घोषणा को पूरा करने के लिए प्रतिबद्धता जताई।

इसके तुरंत बाद नगर निगम प्रशासन रविवार होने के बावजूद हरकत में आ गया। निगम के पशुधन अधिकारी डॉ. धीरज गोयल मातहतों की टीम के साथ पहले करेली थाने पहुंचे। वहां से एसओ संग फोर्स लेकर अटाला स्थित बूचड़ खाने पहुंचे। वहां स्लाटर हाउस के गेट पर ताला लगा सील करने की कार्रवाई की गई।

इसके बाद टीम सदस्य नैनी स्थित चकदोंदी स्लाटर हाउस पहुंचे। यहां भी बूचड़खाने को बंद करा सील किया गया।

Share this page on: