15.10.2013 ►Barmer ►Sanskar Nirman Shivir Organized in Presence of Sadhvi Labdhi Yasha

Posted: 16.10.2013
Updated on: 11.02.2015

ShortNews in English

Barmer: 15.10.2013

Sanskar Nirman Shivir Organized in Presence of Sadhvi Labdhi Yasha.

News in Hindi

बाड़मेर 14 अक्तूबर 2013 जैन तेरापंथ न्यूज

मनुष्य के जीवन में संस्कारों का बड़ा महत्व होता हैं। एक व्यक्ति के पास सब कुछ है मगर व्यक्ति संस्कारी नहीं है तो उसके जीवन में बहुत बड़ी कमी है। ये उद्गार साध्वी श्री लब्धि यशा ने अंतरी देवी बालिका माध्यमिक विद्यालय में लॉयंस क्लब बाड़मेर एवं अणुव्रत समिति बाड़मेर के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित संस्कार निर्माण कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कही।

साध्वी श्री लब्धि यशा ने अणुव्रत के छोटे-छोटे नियमों की जानकारी देते हुए कहा कि आचार्य तुलसी की ओर से शुरू किए गए अणुव्रत नियम आज की आवश्यकता है। जीवन में बदलाव लाने के लिए संकल्प की आवश्यकता है। अणुव्रत छोटे-छोटे संकल्पों का समूह है। साथ ही बालिकाओं को अणुव्रत नियम पालन करने की प्रतिज्ञा दिलाई। इस अवसर पर साध्वी जिज्ञासा प्रभा ने कहा कि संस्कारहीन बच्चे परिवार, समाज व राष्ट्र के लिए समस्या पैदा करने वाले होते हैं। जबकि संस्कारी बच्चे परिवार, समाज व राष्ट्र की समस्या का समाधान करने वाले बन सकते है। लॉयंस क्लब अध्यक्ष कमल किशोर सिंहल ने अतिथियों का स्वागत करते हुए क्लब के उद्देश्यों व किए जा रहे कार्यों पर प्रकाश डाला। अणुव्रत समिति बाड़मेर के अध्यक्ष मुकेश जैन अणुव्रत समिति बाड़मेर की ओर से किए जा रहे कार्यों की जानकारी दी। सचिव डॉ. प्रदीप पगारिया ने बताया कि क्लब बाड़मेर हर क्षेत्र में सेवा गतिविधि का आयोजन करता आ रहा है। वीरचंद वडेरा ने धन्यवाद ज्ञापित किया। कार्यक्रम में किशनलाल वडेरा, महेंद्र जैन हालाहाला, नीतू पगारिया, अणुव्रत समिति बाड़मेर के उपाध्यक्ष ओम जोशी, ताराचंद चौपड़ा, मंत्री पारसमल गोलेच्छा, संरक्षक ओमप्रकाश बोहरा, अमृतलाल वडेरा, आलोक सिंहल, तेरापंथ समाज के पुखराज बोकडिया सहित सैकड़ों बालिकाएं मौजूद रही।

Share this page on:

Source/Info

Jain Terapanth News
JTN

ShortNews in English:
Sushil Bafana