12.07.2018 ►SS ►Sangh Samvad News

Posted: 12.07.2018
Updated on: 15.07.2018

Update

Follow this link to join my WhatsApp group: https://chat.whatsapp.com/4rTQL6pmwpl5JqZwqZAgPh
""""""'""""'''''''"""""'''''"""""""""""""""""""""""""""""""""
*13/07/2018 आचार्य श्री महाश्रमणजी एवं चारित्रात्माओं के दक्षिण भारत में सम्भावित विहार/ प्रवास सबंधित सूचना*
"""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""'''""""""""""""
🌈 *अहिंसा यात्रा प्रणेता आचार्य श्री महाश्रमण जी अपनी धवल सेना के साथ चेन्नई उपनगरीय यात्रा के तहत Royapettah से विहार करके प्रातः कालीन प्रवास हेतु*
*सुदर्शन जी पारख* के यहां
*44/1,महाराजा सूर्य रोड, वीनस कॉलोनी, 2nd स्ट्रीट, आलवारपेट पधारेंगे
👉 लोकेशन:
https://goo.gl/maps/sohTEgu1vJK2

पूज्य गुरुदेव का शाम एंव रात्री कालीन प्रवास
*S S Jain Sthanak Bazaar Road Saidapet Opp Saidapet police station रहेगा* 🌈
"""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""
"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*
*संघ संवाद* + *संघ संवाद*
"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*'*'*"
🔹 *आचार्य श्री महाश्रमण जी के आज्ञानुवर्ति मुनिश्री मुनिसुव्रत कुमार जी ठाणा 2* का प्रवास
*जैन स्कूल, सोहनलाल जी बाठिया*
*BEML*
☎9602007283,8073658487
"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*
*संघ संवाद* + *संघ संवाद*
"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*
🔹 *आचार्य श्री महाश्रमण जी के आज्ञानुवर्ती मुनि श्री रणजीत कुमार जी एवं मुनि श्री रमेश कुमार जी का प्रवास*
*अर्हम भवन*
*विजयनगर, बैगलौर*
☎8085400108,9886766006
"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*
*संघ संवाद*+ *संघ संवाद*
"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*
🔹 *आचार्य श्री महाश्रमण जी के सुशिष्य मुनि श्री ज्ञानेन्द्र कुमार जी ठाणा 3 का प्रवास*
*तेरापथ भवन*
शुशियापुरम, रायापुरम
*तिरुपुर*
☎8107033307,
"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*'*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*
*संघ संवाद*+ *संघ संवाद*
"*"*'*"*'*"*'*'*"*'*"*"*"*"*'*'*'*"*'*'*"*'*"*"*
🔹 *आचार्य श्री महाश्रमण जी के सुशिष्य मुनि श्री अर्हत कुमार जी ठाणा 3 का प्रवास*
Sontyam Highway HP Petrol Bunk.
(Gopalpatnam se 16 km ka Vihar)
☎9665000605,
"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*'*"*"*"*"*"*"*"*'
*संघ संवाद + संघ संवाद*
"*"*'*"*"*"*"*"*"*'*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"
🔹 *आचार्य श्री महाश्रमण जी के सुशिष्य मुनि श्री प्रशान्त कुमार जी ठाणा २ का प्रवास*
*तेरापथ भवन*
शुशियापुरम, रायापुरम
*तिरुपुर*
☎9629588016,
"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*
*संघ संवाद*+ *संघ संवाद*
"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*'*"*"*"*"
🔸 *आचार्य श्री महाश्रमण जी की सुशिष्या शासन श्री साध्वी श्री कंचनप्रभा जी ठाणा 5* का प्रवास
*सुबह का प्रवास*
तेरापंथ सभा भवन
गांधीनगर, बेंगलुरु
*शाम एवं रात्रि प्रवास*
कांतिलाल जी पिपाडा के निवास स्थान पर
मल्लेश्वरम, बेंगलुरु

"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*'*"*"*"*"
*संघ संवाद* + *संघ संवाद*
"*'*'*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"
🔸 *आचार्य श्री महाश्रमण जी की सुशिष्या साध्वी श्री राकेश कुमारी जी (बायतु) ठाणा 4* का प्रवास
*प्रकाश जी बैद (छापर) के निवास स्थान पर*
वेस्टमार्डपल्ली
*सिकन्दराबाद*
☎9959037737,9052001988
*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"
*संघ संवाद+ संघ संवाद*
*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"
🔸 *आचार्य श्री महाश्रमण जी की सुशिष्या सुर्दशना श्री जी ठाणा 4 का प्रवास*
फोर्ट मे (किला)
*बेल्लारी*
☎6362889726
"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*
*संघ संवाद + संघ संवाद*
"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*
🔸 *आचार्य श्री महाश्रमण जी की सुशिष्या साध्वी श्री लब्धि श्री जी ठाणा 3 का प्रवास*
*बालचंद जी रमेश जी नौलखा*
*सिद्धार्था,मैसुर*
☎9448023050,
"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*'*"*"*'*"*"
*संध संवाद*+ *संध संवाद*
"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*
🔸 *आचार्य श्री महाश्रमण जी की सुशिष्या साध्वी श्री मधुस्मिता जी ठाणा 6 का प्रवास*
*प्रकाश जी गांधी*
Flat no 104, 1st floor Mehta ambince
Appartment Raghvendra temple street,behind Prasanna theatre
Manjunath nagar,,Magadi Road Bangalore 560053
☎7798028703,8123456399
9448295489
"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*
*संघ संवाद*+ *संघ संवाद*
"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*"*'*"*"*"*
*संघ संवाद What'sapp से जुड़ने के लिए दिए गए link पर जाकर Click करें*
''''''''''''''''''''''''''''''''''''''''''''''''''''''''''''''''''''''''''''''''''''''''''''''''''''''''''''''''"
*संघ संवाद की और अधिक जानकारी के लिए इन नम्बरो पर संपर्क करें*
📲 *जितेन्द्र घोषल*: *9844295823*
📲 *मंजु गेलडा*: *9841453611*
""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""
*प्रस्तुति:- 🌻 *संघ संवाद* 🌻
""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""

WhatsApp Group Invite
Follow this link to join

*आचार्य श्री महाप्रज्ञ जी के 99 वें जन्म दिवस समारोह पर आयोजित कार्यक्रम...*

🔹 विजयनगर (बेंगलुरु)
🔹 पुणे
🔹 श्री गंगानगर
🔹 तिरुपुर

प्रस्तुति: 🌻 *संघ संवाद* 🌻

News in Hindi

*आचार्य श्री महाप्रज्ञ जी के 99 वें जन्म दिवस समारोह पर आयोजित कार्यक्रम...*

🔹 हनुमंतनगर (बेंगलुरु)
🔹 साउथ हावड़ा
🔹 तलवंडी (कोटा)
🔹 लिम्यायत (सूरत)
🔹 काजुपाड़ा (मुम्बई)

👉 टिटिलागढ - निर्माण एक कदम स्वच्छता की ओर

प्रस्तुति: 🌻 *संघ संवाद* 🌻

👉 चैन्नई - *परम पूज्य गुरुदेव ने संघ संवाद संपादक मंडल सदस्या* के यहां पधार कर अनुग्रह की वर्षा की.....

प्रस्तुति: 🌻 *संघ संवाद* 🌻

🛡🗯🗯🛡🛡🗯🗯🛡
❄ *अणुव्रत* ❄

🔹 संपादक 🔹
*श्री अशोक संचेती*
🌼
*अर्थशास्त्र के विषय पर केंद्रित*
🎈 *जुलाई अंक* 🎈
के
आकर्षण
🌼
*अर्थव्यवस्था की आधार भूमि*
👁
अणुव्रत का अर्थशास्त्रीय चिंतन
👁
*ईमानदारी के प्रति आस्था हो*
👁
क्यों गिर रहे हैं नैतिक मूल्य?
👁
*अर्जन के साथ विसर्जन की प्रासंगिकता*
👁
जीवन लक्ष्य का अर्थ बोध
👁
*आर्थिक पवित्रता का सिद्धांत*
👁
जीवन बने नैतिक और प्रामाणिक

🗯🎐🗯🗯🎐🗯
🔅 *अणुव्रत सोशल मीडिया*🔅

संप्रसारक
🌻 *संघ संवाद* 🌻
🛡🗯🗯🛡🛡🗯🗯🛡

🔆⚜🔆⚜🔆⚜🔆⚜🔆⚜🔆

जैनधर्म की श्वेतांबर और दिगंबर परंपरा के आचार्यों का जीवन वृत्त शासन श्री साध्वी श्री संघमित्रा जी की कृति।

📙 *जैन धर्म के प्रभावक आचार्य* 📙

📝 *श्रंखला -- 374* 📝

*आस्था-आलम्बन आचार्य अभयदेव*
*(नवांगी टीकाकार)*

*जीवन-वृत्त*

गतांक से आगे...

लोकापवाद सुनकर आचार्य अभयदेव का विश्वास डोल गया। अंतर्चिंतन चला। रात्रि के समय उन्होंने धरणेन्द्र का स्मरण किया। शासन हितैषी धरणेन्द्र ने निद्रालीन उनके शरीर को चाटकर स्वस्थ बना दिया।

स्वप्नावस्था में आचार्य अभयदेव को प्रतीत हुआ 'विकराल काल में मेरे शरीर को आक्रांत किया है।' इस स्वप्न के आधार पर आचार्य अभयदेव ने सोचा 'मेरा आयुष्य क्षीणप्रायः है, अतः अनशन कर लेना उचित है।'

स्वप्नावस्था में आचार्य अभयदेव के सामने धरणेन्द्र पुनः प्रकट होकर बोला "मैंने ही आपके शरीर को चाट कर आपका कुष्ठरोग शांत किया है।"

शासन प्रभावना में जागरूक आचार्य अभयदेव ने कहा "देवराज! मुझे मृत्यु का भय नहीं है, परंतु मेरे रोग को निमित्त बनाकर पिशुनजनों द्वारा प्रचारित धर्मसंघ का अपवाद दुःसह्य हो गया था।"

धरणेन्द्र के निवेदन पर श्रावक संघ के साथ आचार्य अभयदेव स्तम्भन ग्राम में गए। सेढ़िका नदी के तट पर धरणेन्द्र द्वारा निर्दिष्ट स्थान पर उन्होंने 'जयतिहुण' नामक बत्तीस श्लोकों का स्तोत्र रचा। स्तोत्र रचना से वहां पार्श्वनाथ की प्रतिमा प्रकट हुई। वह प्रतिमा आज भी खम्भात में है।

पूर्वकाल में किसी समय श्रीकांतानगरी में धनेश श्रावक को तीन प्रतिमाएं तदधिष्ठायक देवी की कृपा से समुद्र में उपलब्ध हुई। श्रावक ने एक प्रतिमा चारूप ग्राम में, दूसरी पाटण में और तीसरी सेढ़िका नदी के तट पर वृक्षों के जाल समूह में स्थापित की।

नागार्जुन ने इस अंतिम प्रतिमा के सामने बैठकर रस सिद्धि विद्या की साधना की। अभयदेवसूरि द्वारा सेढ़िका नदी पर प्रतिमा प्रकटन की गौरव वृद्धिकारक घटना से जनापवाद मिट गया। लोग अभयदेव की प्रशंसा करने लगे। धरणेन्द्र ने स्तोत्र की दो प्रभावक गाथाओं को लुप्त कर दिया।

*खरतरगच्छ वृहद् गुर्वावली ग्रंथ में इस घटना को किस प्रकार बताया गया है...?* जानेंगे और प्रेरणा पाएंगे... हमारी अगली पोस्ट में... क्रमशः...

प्रस्तुति --🌻 *संघ संवाद* 🌻
🔆⚜🔆⚜🔆⚜🔆⚜🔆⚜ 🔆

🌞🔱🌞🔱🌞🔱🌞🔱🌞🔱🌞

अध्यात्म के प्रकाश के संरक्षण एवं संवर्धन में योगभूत तेरापंथ धर्मसंघ के जागरूक श्रावकों का जीवनवृत्त शासन गौरव मुनि श्री बुद्धमलजी की कृति।

🛡 *'प्रकाश के प्रहरी'* 🛡

📜 *श्रंखला -- 28* 📜

*नगराजजी बैंगानी*

*लकड़ियों के लिए*

मघवागणी संवत् 1946 (चैत्रादि 1947) के ज्येष्ठ मास में सरदारशहर से रतनगढ़ की ओर पधार रहे थे। भयंकर गर्मी के दिन थे। लू आग की लपट की तरह शरीर को झुलसा रही थी। मघवागणी का शरीर काफी भारी था, अतः विहार छोटे-छोटे ही हुआ करते थे। क्रमशः दुलरासर पधारे। वहां मध्याह्न में किसी के घर में आग लग गई। हवा तेज थी, अतः बहुत शीघ्र ही वह फैल कर व्यापक हो गई। ऋतु की गर्मी के साथ मिलकर आग की गर्मी से प्रलय जैसा दृश्य उपस्थित हो गया। अधिकांश घर जलने लगे थे। जो बचे थे वे शकरकंद की तरह सिक रहे थे। सिटी की भयंकरता को देखते हुए मघवागणी ने वहां से उसी समय विहार कर दिया और मांगासर पधार गए। मार्ग में गर्मी के भीषण प्रकोप से बड़ा कष्ट रहा। अनेक साधु-साध्वियों को लू लग गई।

पहले दिन के विहार की क्लान्ति तथा साथ के साधुओं की रुग्ण स्थिति के कारण अगले दिन प्रातः मघवागणी ने केवल एक कोस का ही विहार किया और खिलेरिया पधार गए। साथ के साधुओं में मुनि नंदरामजी (क्रम संख्या 228) अधिक रुग्ण थे। ऐसे तो वे बहुत पहले से रुग्ण चले आ रहे थे, परंतु पहले दिन के प्रकृति प्रकोप ने तो उनको किनारे ही पहुंचा दिया। फिर भी न जाने कौन से मनोबल से विहार कर खिलेरिया तक पहुंच गए। साधु मंदिर में ठहरे थे। वहीं पर मुनि नंदरामजी को बिछौना करके सुला दिया गया। कुछ ही समय पश्चात् उनकी स्थिति एकदम बिगड़ गई। पुजारी ने जब इनको मरणासन्न स्थिति में देखा तो मंदिर को खाली कर देने के लिए कहने लगा। समझाने-बुझाने का उस पर कोई प्रभाव नहीं हुआ। आखिर झोली में सुला कर उन्हें पास के घर में ले गए। वहां भी रहने नहीं दिया गया। तब वापस लाकर मंदिर की बाहरी वाली चौकी पर सुलाया गया। उसी क्षण उनका शरीरांत हो गया। मघवागणी की सेवा में उस समय बहुत कम लोग थे। जो थे उनमें भी स्त्रियों की संख्या ही अधिक थी। भाइयों ने जब उनके दाह संस्कार की तैयारी की तब ग्रामवासियों से लकड़ी खरीदने की आवश्यकता हुई, परंतु वे लोग ऐसी निम्न विचारधारा के निकले की मूल्य से भी लकड़ियां देने को तैयार नहीं हुए। सभी श्रावक बड़ी दुश्चिंता में फंस गए।

*श्रावकों की यह दुविधा किस तरह हल हुई...?* जानेंगे और प्रेरणा पाएंगे... हमारी अगली पोस्ट में क्रमशः...

प्रस्तुति --🌻 *संघ संवाद* 🌻
🌞🔱🌞🔱🌞🔱🌞🔱🌞🔱🌞

Video

*आचार्य श्री महाप्रज्ञ जी* द्वारा प्रदत प्रवचन का विडियो:

*चंचल मन: वीडियो श्रंखला १*

👉 *खुद सुने व अन्यों को सुनायें*

*- Preksha Foundation*
Helpline No. 8233344482

संप्रेषक: 🌻 *संघ संवाद* 🌻

👉 प्रेक्षा ध्यान के रहस्य - आचार्य महाप्रज्ञ

प्रकाशक - प्रेक्षा फाउंडेसन

📝 धर्म संघ की तटस्थ एवं सटीक जानकारी आप तक पहुंचाए
https://www.facebook.com/SanghSamvad/
🌻 *संघ संवाद* 🌻

🌈 *"अहिंसा यात्रा" के बढ़ते कदम..*
https://www.facebook.com/SanghSamvad/

👉🏻 आज का प्रवास -

*प्रात:कालीन प्रवास*

*12 जुलाई 2018*

*प्रात:कालीन प्रवास*
Ramesh Bohra
No. 45/23 Chengalvarayan Street, Triplicane, chennai - 5

लोकेशन जानने के लिए नीचे दिए गये लिंक पर क्लिक करें।
https://goo.gl/maps/X9c7x8imuGJ2

*प्रवचन स्थल*
Jain Stanak
12, Bazar Road, Mylapore,Chennai -4
Opp Shri Adhinath Bhavan

लोकेशन जानने के लिए नीचे दिए गये लिंक पर क्लिक करें।
https://goo.gl/maps/s2vdZUs7iCR2

*प्रवचन पश्चात दिन-रात्रि का प्रवास*
Chattermalji Baid, No. 9, Devaisigamani Street, Lakshmipuram, Royepettah, Chennai - 4

लोकेशन जानने के लिए नीचे दिए गये लिंक पर क्लिक करें।
https://goo.gl/maps/V2CVyzVDmum



📝 धर्म संघ की तटस्थ एवं सटीक जानकारी आप तक पहुंचाए

🌻 *संघ संवाद* 🌻

Share this page on: