19.11.2017 ►Delhi ►Abhinandan Samaroh

Posted: 21.11.2017
Updated on: 24.11.2017

37841701704

2017.11.19 Delhi. Abhinandan Samaroh 01 Doctors Honoured

26782491979

2017.11.19 Delhi. Abhinandan Samaroh 02 Audience

38526744712

2017.11.19 Delhi. Abhinandan Samaroh 03 Muni Jayant Kumar 2nd From Left

37841701574

2017.11.19 Delhi. Abhinandan Samaroh 04 Kiran Devi Anchalia honoured

26782491889

2017.11.19 Delhi. Abhinandan Samaroh 05 Muni Sumermal (Sudarshan)

37670508115

2017.11.19 Delhi. Abhinandan Samaroh 06 Ladies Audience

News in Hindi:

तपोभिनंदन एवं सेवा सम्मान समारोह

ग्रीनपार्क, नई दिल्ली- 19-11-17

शांतिदूत आचार्य श्री महाश्रमण जी के आज्ञानुवर्ती तेरापंथ धर्मसंघ के वरिष्ठ संत "शासनश्री" मुनि श्री सुमेरमल जी (सुदर्शन) के पावन सान्निध्य में जैन श्वेताम्बर तेरापंथी सभा, दक्षिण दिल्ली द्वारा "तपोभिनंदन एवं सेवा सम्मान समारोह" का आयोजन किया गया। इसके तहत मुख्यरूप से मुनि श्री के प्रवास काल में तपस्या करने वाले तपस्वियों एवं निःस्वार्थ भाव से सेवा करने वाले डॉक्टरों का सम्मान किया गया।

मुनि श्री तन्मय कुमार जी द्वारा नमस्कार महामंत्र से कार्यक्रम का शुभारंभ हुआ। मुनि श्री ने गीत के संगान के साथ तप की महिमा बताई।

प्रखरवक्ता मुनि श्री जयंत कुमार जी ने कहा- तपस्वी दृढ़ मनोबल के द्वारा अपने शरीर को तपाते हुए तप के मार्ग पर आगे बढ़ते है। तपस्या से परम पवित्रता को प्राप्त किया जा सकता है। तपस्वी लोगों का अभिनंदन सबमें तप के मार्ग पर बढ़ने की प्रेरणा भरता है। डॉक्टरों की सेवा का उल्लेख करते हुए कहा की वर्तमान में छोटा से कार्य करने वाले भी उसका श्रेय चाहते है वही इन डॉक्टरों ने बिना फल की इच्छा करते हुए हम मुनियों की सेवा की है। यह सबके लिए उदाहरण है। मुनि श्री अनुशासन कुमार जी, मुनि मेरु कुमार जी, मुनि सौम्य कुमार जी ने बीबी तपस्वियों के प्रति मंगल कामना व्यक्त की।

कार्यक्रम में दक्षिण दिल्ली तेरापंथ महिला मण्डल की बहनों ने मंगलाचरण किया। दक्षिण दिल्ली सभा के पदाधिकारियों ने तप गीतिका की प्रस्तुति दी। दक्षिण दिल्ली सभाध्यक्ष उत्तमचन्द जी गेलड़ा ने स्वागत भाषण दिया। दिल्ली सभाध्यक्ष गोविंदराम जी बाफना, दिल्ली तेयुप अध्यक्ष राजेश जी भंसाली, तेरापंथ महिला मण्डल की अध्यक्षा पुष्पा जी बोकड़िया ने तप की महत्ता पर अपने विचार रखे व तपस्वीयों की अनुमोदना की।

अभिनंदन के क्रम में दिल्ली तेमम की उपाध्यक्ष निर्मला देवी कोठारी के वर्षीतप, पूजा जी बोथरा के 46, अमिता जी बैद के 11, संध्या जैन के 9, प्रांजल जी खटेड के 9, करण जी बांठिया के 9, अवनीश जी बैद के 8, कुसुम जी संचेती के 6 एवं 2 महीना एकान्तर, निर्मला जी बैद के 1 महीना एकान्तर करने पर साहित्य एवं मोमेंटो द्वारा अभिनंदन किया गया। ललिता जी कुचेरिया का जैन विश्व भारती यूनिवर्सिटी से बीए में पूरी यूनिवर्सिटी में 1st आने पर व 2 महीना एकान्तर करने पर सम्मान किया गया।

सेवा सम्मान के क्रम में स्थान प्रदान करने वाले रमेश जी गोयल, सुरेश जी गेलड़ा। विशिष्ठ सेवा करने वाले किरण देवी जी आंचलिया, सत्यभूषण जैन और डॉ. पी. आर. कुचेरिया, डॉ. प्रसन्न सिंघवी, डॉ.आसिफ इकबाल, डॉ. लक्ष्य मित्तल को शील्ड व साहित्य से सम्मानित किया गया।

समारोह में अ. भा. अणुव्रत न्यास के मुख्य न्यासी सम्पत जी नाहटा, दिल्ली सभा के महामंत्री आसकरण जी सेठिया, जैविभा के पूर्व महामंत्री अरविंद जी गोठी, दक्षिण दिल्ली के पूर्व सभाध्यक्ष जोधराज जी बैद व निर्मल जी कोठारी, तेमम सहमंत्री चांदनी जी दुगड़, समण संस्कृति संकाय की सह संयोजिका सुशीला देवी गोलछा आदि अनेक गणमान्य पदाधिकारियों की सहभागिता रही।

कार्यक्रम के संयोजक हीरालाल गेलड़ा, अरविंद जी गेलड़ा का उल्लेखनीय योगदान रहा। दक्षिण दिल्ली सभा के मंत्री मनोज जी खटेड ने कुशलता से संचालन किया। कार्यक्रम में श्रावक समाज की अच्छी उपस्थिति रही।

Welcome Function for Tap Doing People

19.11.2017
Delhi

In presence of Muni Sumermal (Sudarshan) function was held to honour those layperson who has done Tap and also associated with Seva. Puja Bothra has done fast for 46 days.

Muni Tanmay Kumar presented opening song. Muni Jayant Kumar described value of Tap in attaining Moksh. Muni Anushasan Kumar, Muni Meru Kumar and Muni Saumya Kumar also spoke on occasion.

Doctors were honoured to render service. Dr. P R. Kucheria and other doctors were honoured. Mahila Mandal Presented song for Tapaswi. Manoj Khater compered function.

Share this page on: