JAIN STAR News

Posted: 17.07.2017
Updated on: 18.07.2017

Jain Star


Update

मीरा भायंदर:साध्वी शासन श्री नगीनाश्री जी का देवलोकगमन,
*मीरा भायंदर सहित तेरापंथ सम्प्रदाय  में शोक की लहर,अंतिम यात्रा में हुए हजारो लोग शामिल  मीरा भायंदर। आचार्य श्री महाश्रमणजी कि आज्ञा...

JAIN STAR News

MBMC चुनाव:जैनो के इर्द-गिर्द घूमती मीरा भायंदर की राजनीति
Jain Star News Network | July 17,2017
मीरा भायंदर में अगले महीने होने वाले मनपा चुनाव को लेकर राजनीतिक दलों की राजनीति जैनो के इर्द-गिर्द घूमती नजर आ रही है। जैनो वोटो के एकमुश्त समर्थन के सहारे मनपा की सत्ता में 9 जैन नगर सेवकों के सहारे 27 नगरसेवको की छलांग लगाने वाली भारतीय जनता पार्टी हो, या शिव सेना,कांग्रेस या अन्य राजनीतिक दल मनपा की सत्ता में अपनी उपस्थिति दर्ज कराने की चाहत में जैनो के वोट हासिल कर अपने -अपने उम्मीदवारों को जीत दिलाकर कर सत्ता की कुर्सी तक पहुंचना है। खासकर भाजपा,शिवसेना जैन बाहुल्य प्रभागों में अपनी चुनावी रणनीति जैनो को केंद्र में रखकर बनाने में जुटे हुए हैं। इसमें भायंदर (वेस्ट) स्थित सीमंधर स्वामी जैन मंदिर स्थानीय जैनो की राजनीति का केंद्र बना हुआ नजर आ रहा है जंहा हर रोज कई राजनीतिज्ञ मनपा उम्मीदवार जैन वोटो की चाहत में हाजरी देते दिखते है
मीरा भायंदर की राजनीति में जैनो की अहम भूमिका है। जैन बाहुल्य मनपा परिसर में जैनो की आबादी लगभग 15 प्रतिशत के आसपास है कई प्रभागों से जैन समुदाय जिसे चाहे नगरसेवक की कुर्सी पर बिठा और उतार सकने की हैसियत रखता है। यही वजह है कि हर दल इस वोट बैंक को किसी भी तरह इसे अपने पाले में करने को बेताब है। बीते मनपा चुनाव परिणामों के बाद रांकापा ने जैन बाहुल्य प्रभागों में हार का ठीकरा जैनो पर फोड़ा था। यहाँ तक की कई रांकापा नेताओ ने कहा भी था कि जैनो की वजह से पार्टी को जैन बाहुल्य प्रभागों में हार का सामना करना पड़ा। इसी तरह भाजपा की जीत का सेहरा जैनो के सिर बांधा था। ऐसे में आगामी मनपा चुनाव में संभावित जैन उम्मीदवारों को टिकट देने को खास तवज्जो दी जा रही है ।

MBMC चुनाव:जैनो के इर्द-गिर्द घूमती मीरा भायंदर की राजनीति
Jain Star News Network | July 17,2017
मीरा भायंदर में अगले महीने होने वाले मनपा चुनाव को लेकर राजनीतिक दलों की राजनीति जैनो के इर्द-गिर्द घूमती नजर आ रही है। जैनो वोटो के एकमुश्त समर्थन के सहारे मनपा की सत्ता में 9 जैन नगर सेवकों के सहारे 27 नगरसेवको की छलांग लगाने वाली भारतीय जनता पार्टी हो, या शिव सेना,कांग्रेस या अन्य राजनीतिक दल मनपा की सत्ता में अपनी उपस्थिति दर्ज कराने की चाहत में जैनो के वोट हासिल कर अपने -अपने उम्मीदवारों को जीत दिलाकर कर सत्ता की कुर्सी तक पहुंचना है। खासकर भाजपा,शिवसेना जैन बाहुल्य प्रभागों में अपनी चुनावी रणनीति जैनो को केंद्र में रखकर बनाने में जुटे हुए हैं। इसमें भायंदर (वेस्ट) स्थित सीमंधर स्वामी जैन मंदिर स्थानीय जैनो की राजनीति का केंद्र बना हुआ नजर आ रहा है जंहा हर रोज कई स्थानीय राजनीतिज्ञ मनपा उम्मीदवार जैन वोटो की चाहत में हाजरी देते दिखते है
मीरा भायंदर की राजनीति में जैनो की अहम भूमिका है। जैन बाहुल्य मनपा परिसर में जैनो की आबादी लगभग 15 प्रतिशत के आसपास है कई प्रभागों से जैन समुदाय जिसे चाहे नगरसेवक की कुर्सी पर बिठा और उतार सकने की हैसियत रखता है। यही वजह है कि हर दल इस वोट बैंक को किसी भी तरह अपने पाले में करने को बेताब है। बीते मनपा चुनाव परिणामों के बाद रांकापा ने जैन बाहुल्य प्रभागों में हार का ठीकरा जैनो पर फोड़ा और भाजपा की जीत का सेहरा जैनो के सिर बांधा था। ऐसे में आगामी मनपा चुनाव में संभावित जैन उम्मीदवारों को टिकट देने को खास तवज्जो दी जा रही है ।

Share this page on:

Source/Info

JAIN STAR