16.07.2017 ►Acharya Shri VidyaSagar Ji Maharaj ke bhakt ►News

Posted: 17.07.2017

News in Hindi

today pic 🙂 आज सुबह हमको #रामटेक के #शांतिनाथ भगवान के दर्शन करने का सौभाग्य प्राप्त हुआ जगतगुरु #आचार्यविद्यासागर जी के साथ ❤️

सुबह 700 मीटर विहार करने का अवसर मिला, मंदिर से 700 मीटर दूरी पर आज आचार्यश्री प्रतिभस्तलि की भवन निर्माण से सम्बंधित कार्य देखने गए थे, आचार्यश्री जी के आर्शीवाद से आज भवन निर्माण का कार्य शुरू हुआ उसके पस्चात पाद प्रक्षालन करने का हमको भी भी मिला आचार्यश्री जी के चरण दुला कर हम धन्य हो गए अहो भाग्य हमारे

नमनकरता:-रजत जैन भिलाई -Big thanks to Rajat Jain:))

🎧 www.jinvaani.org @ e-Storehouse of Jinvaani, Be Blessed with Gem-trio! 😇

#Jainism #Digambara #Arihant #Tirthankara #Adinatha #LordMahavira #Rishabhdev #JainDharma #Parshwanatha #AcharyaVidyasagar #AcharyaShriVidyasagar #Ahinsa

Super Awesome Tirthankara Parvanatha @ #Ramtek 🔥 चिंतामणि भगवन तुम, सर्व गुणों की खान! हम गुणमाला गाये के, पावे पद निर्वाण!!

नहीं दोष 18 हैं तुझमे, निकलंक जगत उपकारी हैं!
हैं नाथ त्रिलोकपति भगवन, तू अनंतचतुष्टय धारी हैं!
प्रभु शुक्लयान धरके तुमने, धनघाती कर्म को दूर किया!
और केवलज्ञान दिवाकर से, हैं अखिल विश्व को पूरदिया!

तेरी अमृत वाणी पीकर, प्रभु जग में हुए अमर प्राणी!
तेरी महिमा कहते कहते, थक जाते हैं सुर मुनि ज्ञानी!
प्रभु हरितवर्ण तनपावन तेरा, मरकतमणिसम सुन्दर हैं!
तू ध्यान धुरंधर आत्म स्वच्छ, तू कर्म चूर में वज्जर हैं!!

🎧 www.jinvaani.org @ e-Storehouse of Jinvaani, Be Blessed with Gem-trio! 😇

#Jainism #Jain #Digambara #Arihant #Tirthankara #Adinatha #LordMahavira #Rishabhdev #JainDharma #AcharyaVidyasagar #AcharyaShriVidyasagar #Ahinsa

Video

Live exclusive goosebumps creator clip @ ❤️❤️ #Ramtek.. by Mr. siddharth Jain, Nagpur -विद्यासागर जी.. आहों, विद्यासागर जी आओ महाराज, पधारो महारे आँगनिया.. #ऽhàrë Live Telecast from Ramtek @ #JinvaniChannel -अभी देखे TV पर:)

एक करोड़ का पैकेज छोड़ मन की शांति के लिए बने #आचार्यविद्यासागर G के लघुनंदन #मुनिवीरसागर 🙂🙂 #ऽhàrë ❤️

जहां Young लाखों और करोड़ों रुपए के पैकेज की ओर भाग रहा है। एशोआराम और भौतिक वस्तुओं की चाह में रात-दिन एक किए हुए है। वहीं एक ऐसा भी युवा था जिसने आत्म उत्थान और भारतीय संस्कृति की रक्षा के लिए एक करोड़ रुपये के पैकेज को पल भर में त्याग दिया। यह शख्स था शैलेष जैन जो वर्तमान में दिगंबर मुद्रा धारण कर मुनिश्री वीरसागर महाराज बना। उन्होंने आचार्यश्री 108 विद्यासागर महाराज से दीक्षा ग्रहण की। मुनिश्री वीरसागर यहां हांसी में दो दिगंबर जैन मुनियों के साथ ससंघ चातुर्मास कर रहे हैं। शुक्रवार को अमर-उजाला संवाददाता ने उनसे विशेष बातचीत की। वर्ष 2004 में वीरसागर महाराज बॉम्बे के स्टॉक एक्सचेंज में कन्सलटेंट फर्म में सर्विस पर थे। तब वह 1 करोड़ रूपए के सालाना पैकेज पर कार्य कर रहे थे। वहीं उनके छोटे भाई निलेश जैन बॉम्बे में रिलायंस जियो के असिस्टेंट वाइस प्रेसिडेंट है। वर्ष 1994 में नागपुर से शैलेष ने कैमिकल इंजीनियरिंग का कोर्स किया। इसके बाद उन्होंने एमबीए इन फाइनेंस व चार्टर्ड फाइनेंशनल अकाउंटेट (सीएफए) किया। इसके बाद वह बॉम्बे में एक कन्सलटेंट फर्म में सर्विस पर लगे। 31 वर्ष की आयु में उन्हें वैराग्य हुआ और आत्म उत्थान की लगन जागी।

🎧 www.jinvaani.org @ e-Storehouse of Jinvaani, Be Blessed with Gem-trio! 😇

#Jainism #Jain #Digambara #Nirgrantha #Tirthankara #Adinatha #LordMahavira #RishabhDev #JainDharma #AcharyaVidyasagar #AcharyaShriVidyasagar #Ahinsa

Share this page on: